Vartali devi sadhana वार्ताली देवी साधना भूत भविष्य वर्तमान जानने की साधना ph. 85280 -57364

Vartali devi sadhana वार्ताली देवी साधना भूत भविष्य वर्तमान जानने की साधना ph. 85280 -57364

Vartali devi sadhana वार्ताली देवी साधना भूत भविष्य वर्तमान जानने की साधना ph. 85280 -57364

vartali devi sadhana वार्ताली देवी साधना भूत भविष्य वर्तमान जानने की साधना गुरु मंत्र साधना में आप का स्वागत है आज हम वार्ताली देवी साधना के बारे में चर्चा करेंगे ! यह साधना करण पिशाचिनी की तरह साधक के कान भूत भविष्य पार्टमन की जानकारी देती है पर यह पिशाच योनी की साधना नहीं है यह एक दैविक साधना है आज का विषय है भूत भविष्य ज्ञान कई बार मेरे पास प्रश्न आ चुका है मैं आज एक संपूर्ण डिफरेंट साधन प्रणाली मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूं इसे आप लोग भूत भविष्य वर्तमान को जान सकेंगे यह माता दुर्गा की एक स्वरूप है 12 मुखी त्रिनेत्र है इनका लोटस का फूल होता है उन्हें विराजमान रहता है यह साधना ज्यादातर अगर आप किसी के बारे में कुछ जानना चाहते हैं तो उनके लिए यह साधना करें और उसके बाद आप पूछना होता है और रात में आपको जो उसका जवाब मिल जाता है यह आंशिक सिद्धि है अगर आप कर रहे हैं तो पहली बार मैं आपको आंशिक सिद्धि मिलेगी और दूसरी बार अगर आप करते हैं तो इसका पूर्ण सिद्धि मिलता है मतलब जैसे कर्ण पिशाचिनी में कान में आवाज आएगी उसी हिसाब से आपको जो आवाज आएगी ! तो आप केसी का भी भूत भविष जान सकते है ! आपको और इनके द्वारा आप क्या-क्या कार्य कर सकते हैं मैं जो मंत्र आपको दूंगा उनके द्वारा सिद्ध होने के बाद काम उनको बोलेंगे तो वो कार्य यह देवी करेगी ! अगर कोइ कार्य शत्रु का नाश है बहुत अच्छी तरीके से करती है बाकी आपकी मन की अगर इच्छा हो तो भी आप उनको बोल सकती है वह पूरी हो जाती है ! और भूत भविष वर्तमान की जानकारी पर्दान करती है!

 

vartali devi sadhana वार्ताली देवी साधना विधि

 

vartali devi sadhana वार्ताली देवी मूल मंत्र-:ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं नृं ठं ठं नमो देवपुत्रि स्वर्गनिवासिनी सर्व नरनारी मुख वार्ताली वार्ता कथय सप्त समुद्रान्दर्शय दर्शय ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं नीं ठं ठं हुं फट् स्वाहा।।

vartali devi sadhana वार्ताली देवी साधना विधि लेकिन इसमें मेहनत लगेगा बिना मेहनत के कोई साधन नहीं होता है जाप करना पड़ता था 2 घंटे पर घंटा बैठकर करना आसान नहीं है ऐसा नहीं होता है मैं आज का अनुष्ठान शुरू करता हूं आज का मंत्र है बार ताली देवी का मंत्र करके आप लोग भूत भविष्य वर्तमान इस मनुष्य इस मंत्र का अनुष्ठान शुभ तिथि से करना है करना है शुभ तिथिआप खुद कर सकते हैं अनुष्ठान में इस मंत्र को 125000 सवा लाख मंत्र का आप लोगों को जाप करना है ! अगर सिद्धि करना है बहुत लोगों को सिद्धि करना है !

अगर सिद्ध हासिल करनी हासिल करना है तो उसके लेया मेहनत करना पड़ता है बिना मेहनत का सिद्धि कभी नहीं होता है कोई भी साधक बिना मेहनत के साधक नहीं बने इतिहास इसका गवाह है ! एक बार जरूर इतिहास को पीछे मुड़कर एक बार जरूर देखें सब कुछ पता लग जाएगा इस मंत्र का जाप करना है मंत्र का जाप लोग हिसाब लगा लेना दिन में उठाएंगे हम भी कर सकते हैं मंत्र का 108 बार जाप करके देखे कितना समय लग रहा है उस हिसाब से कैलकुलेशन लगा ले ! उस हिसाब से आप अनुमान लगा ले 125000 सवा लाख मंत्र कितने समय में पूरा होगा ! २१ दिन ३१ , या ४१दिन में कर सकते है लाला रंग की माला रही गी लाला ही आसन होगा !

अगर इस साधना के बारे में विशेष जानकारी चाहते आप फ़ोन पर संपर्क कर सकती ph .8528057364

तुलसी यक्षिणी साधना tulsi yakshini sadhana

mantra tantra education and guru knowledge

फेसबुक

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *