इंद्रजाल मोहिनी मंत्र | सबसे सरल मोहिनी मंत्र – तीव्र साधना ph.8528057364

इंद्रजाल मोहिनी मंत्र | सबसे सरल मोहिनी मंत्र - तीव्र साधना
इंद्रजाल मोहिनी मंत्र | सबसे सरल मोहिनी मंत्र – तीव्र साधना

इंद्रजाल मोहिनी मंत्र सबसे सरल मोहिनी मंत्र मेरा प्रयास यही रहता है कि मैं जनकल्याण के लिए जितना मेरे से हो सके मैं करूं कहीं गलत जगह ना भटके किसी की और की आवश्यकता ना पड़े। इसलिए मैं आज इंद्रजाल मोहिनी मंत्र देने जा रहा हूं । 

इंद्रजाल मोहिनी मंत्र का इस्तेमाल कभी भी गलत इरादे से नहीं करना चाहिए।  यह मंत्र इंद्र के द्वारा सिद्ध मंत्र है और केवल नेक इरादों के साथ ही इसके इस्तेमाल की अनुमति दे रहा हूं। 

अगर आप भी किसी को अपने वश में करना चाहते हैं अपने अधीन करना चाहते हैं तो यह इंद्रजाल मोहित मोहिनी मंत्र का बहुत बढ़िया काम आएगा। मंत्र  वैसे तो इंद्रजाल मोहिनी मंत्र का इस्तेमाल आप किसी भी दिन कर सकते हैं।  लेकिन अमावस की रात्रि को यह उपाय करने से ज्यादा जल्दी असर मिलेगा मतलब अगर यह अमावस की रात्रि को कर जाए तो उसका असर जल्दी मिलेगा। 

 

इंद्रजाल मोहिनी मंत्र | सबसे सरल मोहिनी मंत्र – तीव्र साधना 

 ॐ नमो मन मोहिनी रानी मोहिनी चला सैर को मस्तक धर तेल का दीप जल मोहूं, सब जगत मोहूं, और मोहूं मोहनी रानी जा शय्या बैठी मोहर दरबार गौरा पार्वती की दुहाई। लोनी चमारी की दुहाई फिरे नहीं हनुमन्त की आन ।

 

इंद्रजाल मोहिनी मंत्र | सबसे सरल मोहिनी मंत्र – तीव्र साधना विधि 

मन्त्र के प्रयोग से पहले इसे सिद्ध कर लेना आवश्यक है। दीपावली की रात्रि को ३२० मन्त्र के जप से इसकी सिद्धि मानी जाती है। जिस व्यक्ति को अपनी ओर आकर्षित करना हो, उसके शरीर पर ७ बार मन्त्र का उच्चारण करते हुए अभिमन्त्रित तेल का छींटा दें तो निश्चित रूप से वह मोहित होता है। यदि किसी सभा को मोहित करना हो तो चमेली के तेल को अभिमन्त्रित करके बिन्दी लगानी चाहिये ।

इंद्रजाल मोहिनी मंत्र 2 

२. ॐ नमो मन मोहनी रानी सिंहासन बैठी मोह रही दरबार मेरी भक्ति गुरु की शक्ति दुहाई गौरा पार्वती बजरंगबली की आन नहीं तो लोना चमारी की आन लगे ।

इस मन्त्र के प्रयोग की विधि उपर्युक्त मन्त्र की तरह ही है । अन्तर इतना ही है कि उसकी सिद्धि ३२० मन्त्र के जप से होती है और इस मन्त्र की सिद्धि केवल २०० मन्त्रजप से ही हो जाती है।

और पढ़ो 

माँ तारा कैंसर से मुक्ति साधना maa tar

रेकी हीलिंग करने और करवाने के ख़तरे Risks of doing and getting Reiki healing done

sham Kaur Mohini माता श्याम कौर मोहिनी की साधना और इतिहास -ph.85280 57364

 

1 COMMENT

Comments are closed.