श्री विद्या क्या है - क्या लाभ है - श्री विद्या दीक्षा रहस्य What is Sri Vidya - What are the benefits - Sri Vidya Diksha Rahasyaश्री विद्या क्या है - क्या लाभ है - श्री विद्या दीक्षा रहस्य What is Sri Vidya - What are the benefits - Sri Vidya Diksha Rahasya

श्री विद्या क्या है – क्या लाभ है – श्री विद्या दीक्षा रहस्य What is Sri Vidya – What are the benefits – Sri Vidya Diksha Rahasya ph. 85280 57364

 

श्री विद्या क्या है -क्या लाभ है – श्री विद्या दीक्षा रहस्य श्री विद्या shree vidya भोग कैसे देती है  है उनकी व्याख्या कहीं भी आपको नहीं मिलेगी आप गूगल के ऊपर जाइए गूगल के ऊपर आप सिर्फ इतना टाइप कीजिए जहां-जहां आपको श्री विद्या shree vidya के इनफार्मेशन मिलेगी वहां-वह आपको एक ही चीज मिलेगी श्री विद्या shree vidya भोग और सुख्य देती है परंतु आपको कोई भी एक्सप्लेन नहीं कर सकेगा किसी श्री विद्या shree vidya भोग कैसे देती है श्री विद्या shree vidya मोक्ष कैसे देती है  ( श्री विद्या shree vidya दीक्षा , श्री विद्या shree vidya साधना के लाभ,श्री विद्या shree vidya का बीज मंत्र ,श्री विद्या shree vidya स्तोत्र, श्री विद्या shree vidya मंत्र,श्री विद्या shree vidya क्या है)

shrividya https://gurumantrasadhna.com/shree-vidya-sadhana/

दूसरी बात श्री विद्या shree vidya जब यह शब्द सामने आता है तब लोगों के सामने श्री यंत्र आता है ललिता त्रिपुर सुंदरी का फोटो आता है और पंचदर्शी का मंत्र आता है अब मुझे आप बताइए मित्रों की अगर श्री  यंत्र घर में रखने से यंत्र अगर घर में कोई रख देता है या 5 10 ऐसे श्री यंत्र घर में कोई रख देता है तो क्या देवी ऊपर से आकर आपको श्री विद्या shree vidya नॉलेज दे देंगे नहीं हो सकता

मित्रों काफी लोगों के पास पंचदर्शी का मंत्र है आप गूगल के ऊपर डाल दीजिए आपको ऐसे ही पंचदर्शी का मंत्र मिल जाएगा किसी के  जाने की भी जरूरत नहीं है परंतु ऐसा मंत्र लेकर और उसका जाप करके क्या देवी सच में आपके सामने प्रकट होकर

वह श्री विद्या shree vidya का नॉलेज देगी क्या नहीं दे सकती श्री विद्या shree vidya एक ऐसा शब्द है वर्ल्ड में की इसके पीछे इसके आकर्षण में हजारों लोगों ने लाखों रुपए खर्च किए हैं पैसा बर्बाद किए हैं कुछ लोगों ने तो टिकट लगाए हैं  टिकट लगाए हैं 25000 50000 के श्री  विद्या की दीक्षा लेने के लिए और आगे के लाइन में बैठ जाते हैं आधा दिन भजन करते हैं और आधा दिन मेडिटेशन करते हैं

मित्रों श्री विद्या shree vidya का मेडिटेशन कैसे करना होता है इसका भी नॉलेज नहीं है श्री विद्या shree vidya भोग कैसे देते हैं इसका भी ज्ञान नहीं और मोक्ष कैसे देती इसका भी ध्यान नहीं है तो यह श्री विद्या shree vidya है क्या काफी लोगों के मन में इंप्लांट किया जाता है कि श्री विद्या shree vidya की जो परंपरा है वह दत्तात्रेय जी ने श्री विद्या shree vidya र्थी की है परशुराम जी ने श्री विद्या shree vidyaर्थी की है कुबेर सूर्य मनु इन्होंने श्री विद्या shree vidya की है अगस्त की मुनि लोप मुद्रा ने श्री विद्या shree vidya की है

परंतु मित्रों एक साइड आप देखते हैं कि  इन्होंने श्री विद्या shree vidya की है परंतु दत्तात्रेय जी ने श्री विद्या shree vidya कहां से ली कौन से प्रकार से लिया उन्होंने कितनी उम्र अपनी कितने जीवन की आयु अपने गुरु के पास  में निकाली  वह सीखने के लिए परशुराम जी किस  माहौल से आए थे उनके पास क्या था और कब जाकर उन्होंने  श्री विद्या shree vidya धारण की किसी को भी पता नहीं है। यह सब गुरु के मार्गदर्शन से प्राप्त होगी। 

 

श्री विद्या shree vidya क्या है  विस्तार सहित What is Shri Vidya with details

https://gurumantrasadhna.com/shree-vidya-sadhana/

हम आपको बताएंगे किसी विद्या साधना क्या है या श्री विद्या shree vidya क्या है और यह साधना करने समय क्या तंत्र विद्या का हिंदू संप्रदाय ललिता सहस्रनाम में उनके एक सहस्रनामों के वर्णन है ललिता सहस्रनाम में श्री विद्या shree vidya के संकल्पनाओं का वर्णन है श्री विद्या shree vidya संप्रदाय आत्मा अनुभूति के साथ-साथ भौतिक समिति को भी जीवन के लक्ष्य के रूप में स्वीकार करता है 

श्री विद्या shree vidya के भैरव है अनंत नाम और अनंत रूप है और इनका परम रूप एक तथा अभिन्न है त्रिपुरा उपासकों के मत अनुसार ब्रह्म यदि देवगन त्रिपुरा के उपासक है और उनके परम रूप इंद्रियों तथा मां के अगोचर है एक मात्र मुक्त पुरुष इनका रहस्य समझ पाते हैं 

यह पूर्ण अंतर रूप तथा सूर्य है देवी का परम रूप वासना आत्मक है सूक्ष्म रूप मंत्रा आत्मक है और स्थूल रूप कर चरण आदि विशिष्ट श्री विद्या shree vidya की उपासकों में प्रथम स्थान काम का है मनमत का है यह देवी वह विद्या प्रवर्तक होने के कारण विशेश्वरी के नाम से प्रसिद्ध है और देवी के 12 मुख और नाम प्रसिद्ध है 

श्री विद्या shree vidya साधना के लाभ और हमारे जीवन में क्या महत्त्व है Benefits of Sri Vidya and what is its importance in our life

श्री विद्या shree vidya की साधना से अपने अधिकार के अनुसार पृथक फल प्राप्त किया है श्री विद्या shree vidya साधना व एकमात्र सर्वोच्च साधना है जो अपने उपासक को समस्त भौतिक सुख और भोग प्रदान करते हुए धर्म अर्थ काम और मोक्ष से परिपूर्ण करती है यही इसका लाभ है 

विद्या की चारों शक्तियों को साधना हुआ धर्म अर्थ काम और मोक्ष को प्राप्त करता है ,तो बेसिकली श्री विद्या shree vidya मनुष्य के जीवन में संतुलन स्थापित करती है।  सृष्टि के प्रारंभ कल से ही श्री विद्या shree vidya साधना जीवन के प्रत्येक क्षेत्र जैसे कि धन्य धन विद्या बुद्धि यश कीर्ति रोजगार संतान साधना सिद्धि और समस्त भोग और मोक्ष की प्राप्ति में साधक को पूर्ण सफलता प्रदान करता है। 

यह साधना व्यक्ति के बुद्धि विकास में सहायक है प्रत्येक युग में श्री विद्या shree vidya की साधना ही शक्ति के प्रत्येक युग में श्री विद्या shree vidya की साधना ही शक्ति के समस्त रूपों में बुद्धि शक्ति सफलता दैविक भौतिक और आर्थिक समृद्धि और मोक्ष प्राप्ति का साधन रही है 

आर्थिक समृद्धि और मोक्ष प्राप्ति का साधन रही है मनुष्य के जीवन में सुख और दुख का चक्र तो चलता रहता है लेकिन अंतर यह है किसी विद्या के साधक़  की आत्मा वह मन मस्तिष इतने शक्तिशाली हो जाते हैं  कि ऐसे कर्म ही नहीं करता कि उसे दुख उठाना पड़े किंतु फिर भी यदि पूर्व जन्म के संस्कारों कर्मों के परिणाम स्वरुप जीवन में कोई दुख संघर्ष का समय आता है तो साधक उन सभी विपरीत परिस्थितियों से आसानी से मुक्त हो जाता है वह अपने दुखों को नष्ट करने में सक्षम  हो जाता है 

श्री विद्या  दीक्षा – अत्यंत आवश्यक है क्यों है  और बिना दीक्षा साधना के नुकसान Shri Vidya Diksha – why is it very important and the disadvantages of doing sadhna without initiation

 

सर्व  श्रेष्ठ उन्नति प्राप्ति के लिए यह सर्वश्रेष्ठ साधन है किंतु विधिवत दीक्षा लिए बिना इस साधना को कदापि नहीं करना चाहिए अन्यथा साधना को प्रारंभ में मानसिक विक्षिप्त तथा आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है 

तथा बहुत समय बीतने पर अल्प लाभ ही मिल पाता है बिना गुरु के मार्गदर्शन के श्री विद्या shree vidya साधना खाते नहीं करना चाहिए नहीं तो इसके फिर दुष्परिणाम हो जाते हैं श्रेष्ठ गुरु के मार्गदर्शन में विधवत  दीक्षा लेकर की गई श्री विद्या shree vidya साधना बिना किसी दुष्प्रमण के मंत्र 3 से 5 दिन बाद से अपना प्रभाव देना शुरू कर देती हैऔर आप 41 दिन में आप पूर्ण तरह से इसका जो परिपक्व परिणाम होता है वह आपको हासिल हो जाएगा और फिर यह परम कल्याणकारी उपासना करना मानव के लिए अत्यंत सौभाग्य की बात है 

माँ तारा कैंसर से मुक्ति साधना maa tar

रेकी हीलिंग करने और करवाने के ख़तरे Risks of doing and getting Reiki healing done

sham Kaur Mohini माता श्याम कौर मोहिनी की साधना और इतिहास -ph.85280 57364

By Rodhar nath

My name is Rudra Nath, I am a Nath Yogi, I have done deep research on Tantra. I have learned this knowledge by living near saints and experienced people. None of my knowledge is bookish, I have learned it by experiencing myself. I have benefited from that knowledge in my life, I want this knowledge to reach the masses.